Magazine

English Hindi

Index

Polity

Governance & Social Justice

International Relations

Economy

Environment

Polity

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) 2020

National Population Register (NPR) 2020

उल्लेख: GS 2 || राजसत्ता || संवैधानिक ढांचा || नागरिकता

सुर्खियों में क्यों?

  • सरकार ने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) परियोजना को ऐसे समय में पुनर्जीवित किया है जब असम में नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर प्रकाशित किया गया है।

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR)

  • NPR देश के सामान्य निवासियों की एक सूची है। यह अभ्यास स्थानीय, उप-जिला, जिला, राज्य और राष्ट्रीय स्तरों पर किया जाता है।
  • गृह मंत्रालय के अनुसार,देश का सामान्य निवासी वह है जो कम से कम पिछले छह महीनों से स्थानीय क्षेत्र में निवास कर रहा है, या अगले छह महीनों के लिए किसी विशेष स्थान पर रहने का इरादा रखता है।
  • NPR को नागरिकता अधिनियम 1955 और नागरिकता (नागरिकों का पंजीकरण और राष्ट्रीय पहचान पत्र जारी करना) नियम, 2003 के प्रावधानों के तहत तैयार किया जा रहा है।
  • NPR में पंजीकरण कराना भारत के प्रत्येकसामान्य निवासीके लिए अनिवार्य है।
  • एनपीआर के लिए डेटा को पहली बार 2010 में जनगणना 2011 के घरों की गिनती के चरण के साथ एकत्र किया गया था। 2015 में, इस डेटा का एक डोर-टू-डोर सर्वेक्षण आयोजित करके अद्यतन किया गया था।
  • यह घरों की गिनती के चरण के साथ आयोजित किया जाएगा जो, जनगणना 2021 के लिए MHA के अधीन भारत के रजिस्ट्रार जनरल ऑफ़िस (RGI) के कार्यालय द्वारा आयोजित किया जाने वाला जनगणना का पहला चरण होगा।

NPR, NRC से कैसे अलग है?

  • NRC के विपरीत, NPR कोई नागरिकता जांचने का अभियान नहीं है, क्योंकि यह एक स्थान पर छह महीने से अधिक समय तक रहने वाले एक विदेशी की भी जांच कर उसका रिकॉर्ड प्रस्तुत करेगा।
  • सरकार ने जोर देकर कहा कि NRC को देश भर में लागू किया जाएगा, इसी के साथ NPR ने देश में नागरिकता के विचार को लेकर चिंताएं बढ़ाई हैं।
  • यह सब असम में NRC की विफलता के मद्देनज़र हो रहा है जिसने आवेदन देने वाले3 करोड़ में से 19 लाख को बाहर कर दिया है।
  • देशव्यापी NRC केवल आगामी NPR के आधार पर होगा।
  • निवासियों की सूची (अर्थात NPR) बनने के बाद, राष्ट्रव्यापी NRC उस सूची से नागरिकों को सत्यापित कर सकता है।

इसके आसपास विवाद

  • यह असम में 19 लाख लोगों को बाहर करने पर NRC के प्रति कड़े विरोध के मद्देनज़र आया है।
  • सरकार द्वारा NRC को देश भर में लागू किये जाने के आदेश के साथ, NPR ने देश में नागरिकता के विचार को लेकर चिंताएं बढ़ाई हैं।
  • एक ओर जहां आधार और गोपनीयता पर बहस जारी है, NPR का इरादा भारत के निवासियों पर बहुत अधिक मात्रा में व्यक्तिगत डेटा एकत्र करना है।
  • एक राष्ट्रव्यापी NRC के संचालन का विचार केवल आगामी NPR के आधार पर होगा।
  • निवासियों की सूची (अर्थात NPR) बनने के बाद, राष्ट्रव्यापी NRC उस सूची से नागरिकों को सत्यापित कर सकता है।
  • NPR भी आधार, वोटर कार्ड, पासपोर्ट पहचान डेटाबेस में से एक होगा जिसे MHA एक कार्ड में संयुक्त रूप से देखना चाहेगा।

इसकी शुरुआत कैसे हुई?

  • यह विचार वास्तव में UPA कल का है और 2009 में इसे लागू किया गया था।
  • वास्तव में, उस समय यह आधार (UIDAI) से इस बात पर प्रतिस्पर्धा में था कि नागरिकों को सरकारी लाभ हस्तांतरित करने के लिए कौन सी परियोजना सबसे उपयुक्त होगी।
  • एमएचए ने तब एनपीआर को एक बेहतर वाहन के रूप में स्वीकार किया क्योंकि यह NPR में दर्ज़ हर निवासी को जनगणना के माध्यम से एक घर से जोड़ता था।
  • इसके बाद, गृह मंत्रालय ने भी UIDAI परियोजना को ठंडे बस्ते पर रखा दिया।
  • फिलहाल अतिरिक्त डेटा के साथ 2015 के NPR को अपडेट करने की कवायद शुरू हो गई है और 2020 में पूरी हो जाएगी।

एनपीआर किस तरह का डेटा एकत्र करेगा?

  • एनपीआर जनसांख्यिकीय डेटा और बायोमेट्रिक दोनों डेटा एकत्र करेगा।
  • जनसांख्यिकीय डेटा की 15 अलगअलग श्रेणियां हैं, जिनमें नाम और जन्म स्थान से लेकर शिक्षा और व्यवसाय शामिल हैं, जिन्हें NPR में RGI द्वारा एकत्र किया जाना है।
  • बायोमेट्रिक डेटा के लिए यह आधार पर निर्भर करेगा, जिसके लिए वह निवासियों का आधार विवरण मांगेगा।
  • इसके अलावा, देश भर में होने वाले एक टेस्ट रन में, RGI मोबाइल नंबर, आधार, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड और पासपोर्ट (निवासी भारतीय होने की स्थिति में) का विवरण मांग रहा है।
  • यह जन्म और मृत्यु प्रमाण पत्र के नागरिक पंजीकरण प्रणाली को अपडेट करने के लिए भी काम कर रहा है।

अधिक व्यक्तिगत डेटा

  • 2010 की गणना में, RGI ने केवल जनसांख्यिकीय विवरण एकत्र किया था।
  • 2015 में, इसने मोबाइल, आधार और निवासियों के राशन कार्ड नंबरों के साथ तारीख को भी अपडेट किया।
  • 2020 की गणना में, इसने राशन कार्ड संख्या को हटा दिया लेकिन अन्य श्रेणियों को जोड़ा।.
  • MHA के सूत्रों के अनुसार, NPR के साथ पंजीकरण करना अनिवार्य है, वहीं पैन, आधार, ड्राइविंग लाइसेंस और वोटिंग आईडी जैसे अतिरिक्त डेटा प्रस्तुत करना स्वैच्छिक है।
  • मंत्रालय ने निवासियों के लिये ऑनलाइन भी विवरण को NPR में अपडेट करने की सुविधा दी है।

सरकार को इतना डेटा क्यों चाहिए?

अपने नागरिकों की पहचान करने के लिये

  • पहला दावा यह है कि प्रत्येक देश में प्रासंगिक जनसांख्यिकीय विवरण के साथ अपने निवासियों का व्यापक पहचान डेटाबेस होना चाहिए।
  • इसमें कहा गया है कि यह सरकार को अपनी नीतियों को बेहतर बनाने में मदद करेगा और राष्ट्रीय सुरक्षा में भी मदद करेगा।

 II.डेटा को सुव्यवस्थित करने के लिये

  • दूसरा, मोटे तौर पर ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी और पैन नंबर जैसे डेटा के संग्रह को सही ठहराने के पीछे का तर्क यह है कि भारत में रहने वाले लोगों के जीवन को सहज बनाएगा और ऐसा यह लालफीताशाही को खत्म कर प्राप्त कर सकेगा।
  • इससे न केवल सरकारी लाभार्थियों को बेहतर तरीके से लक्षित करने में मदद मिलेगी, बल्कि आगे भी कागजी कार्रवाई और लालफीताशाही को दूर किया जाएगा जैसे कि आधार ने किया।

III. डेटा के दोहराव को रोकने के लिये

  • विभिन्न सरकारी दस्तावेजों पर किसी व्यक्ति के जन्म की तारीख का पता लगाना आम बात है। एनपीआर इसे खत्म करने में मदद करेगा।
  • NPR डेटा के साथ, निवासियों को आधिकारिक काम में उम्र, पता और अन्य विवरण के विभिन्न प्रमाण प्रस्तुत नहीं करने होंगे। यह मतदान सूचियों में दोहराव को भी समाप्त करेगा, ऐसा सरकार का मानना है।

अतिरिक्त जानकारी 

https://indianexpress.com/article/explained/simply-put-listing-indias-residents-citizens-npr-census-nrc-6032093/

बहुउद्देशीय राष्ट्रीय आईडी कार्ड (MPNIC)

  • MPNIC को पहली बार 2001 की एक रिपोर्ट द्वारा सुझाया गया था, जो “राष्ट्रीय सुरक्षा प्रणाली को सुधारने” पर थी और जिसे अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के दौरान मंत्रियों के अधिकार प्राप्त समूह द्वारा जारी किया गया था।
  • GOM रिपोर्ट स्वयं के. सुब्रह्मण्यम के नेतृत्व वाली कारगिल समीक्षा समिति को एक प्रतिक्रिया थी, जिसे 1999 के कारगिल संघर्ष के मद्देनजर स्थापित किया गया था।
  • GOM में लालकृष्ण आडवाणी (MHA), जॉर्ज फर्नांडिस (रक्षा मंत्री), जसवंत सिंह (MEA), और यशवंत सिन्हा (वित्त मंत्री) शामिल थे, जिन्होंने अवैध प्रवासन के बढ़ते खतरे के संबंध में MPNIC की सिफारिश की थी।

मुख्य परीक्षा अभ्यास प्रश्न

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) क्या है?