Magazine

English Hindi

Index

International Relations

Economy

Economy

नकारात्मक ब्याज दर क्या है?

What is negative interest rate ?

उल्लेख: GS3 || अर्थव्यवस्था || बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र || मौद्रिक नीति

ब्याज दर क्या है?

  • एक ब्याज दर ऋणदाता द्वारा अपने पैसे के उपयोग के लिए लगाए गए मूलधन का प्रतिशत है।
  • बैंक आपको आपकी जमा राशि पर ब्याज दर का भुगतान करता हैं।
  • बैंक उधारकर्ताओं से जमाकर्ताओं की तुलना में थोड़ा अधिक ब्याज दर लेते हैं, क्योंकि ताकी वे लाभ कमा सकें।

रेपो रेट क्या है?

  • रेपो रेट जिसे बेंचमार्क ब्याज दर के रूप में भी जाना जाता है। RBI जब कम समय के लिए बैंकों को पैसा उधार देती है तो उसे रेपो रेट कहा जाता है।
  • जब रेपो रेट घटता है, तो RBI से उधार लेना सस्ता हो जाता है।
  • जब रेपो रेट घटता है तो होम लोन और अन्य लोन पर ईएमआई में काफी कमी आएगी।
  • रेपो रेट की तुलना में रिवर्स रेपो रेट 25 बीपीएस कम है।

अर्थव्यवस्था के धीमे पड़ने के दौरान क्या होता है?

  • सेंट्रल बैंक पॉलिसी रेट को कम करता रहता है, इससे बैंकों से कर्ज सस्ता होता है।
  • इसलिए अधिक निवेश और खर्च होता है।

नकारात्मक ब्याज दर क्या है?

  • यह तब होता है जब किसी देश का केंद्रीय बैंक अपनी नीति दर को शून्य से नीचे धकेल देता है।
  • यह एक ऐसे स्थित को संदर्भित करता है जिसमें एक बैंक से मिलने वाली इंटरेस्ट इनकम के बजाय नकद जमा राशि का चार्ज वसूला जाता है।
  • जमाकर्ताओं को ब्याज के रूप में धन प्राप्त करने के बजाय, जमाकर्ताओं को बैंक के साथ अपने पैसे रखने के लिए नियमित रूप से भुगतान करना होगा।

क्या इसका मतलब है कि जब आप बैंक से पैसा उधार लेते हैं तो आप ब्याज कमाते हैं?

  • नहीं, बैंक ब्याज का भुगतान नहीं करते हैं, इसके बजाय वे लगभग 0% चार्ज करते हैं।
  • यह केंद्रीय बैंक द्वारा नागरिकों को बैंक में बचत करने के बजाय अर्थव्यवस्था में अधिक खर्च करने और निवेश करने का एक प्रकार का मनोवैज्ञानिक संदेश है।

 क्या इससे विकास बढ़ाने में मदद मिली है?

  • इस प्रकार की पॉलिसी ने शुरुआत में कुछ सफलता हासिल की जब यूरोप में 2014 में यूरोपीय सेंट्रल बैंक (ईसीबी) ने नकारात्मक दरों को अपनाया।
  • लेकिन यह जापान जैसे देशों में कोई सफलता लाने में विफल रहा है, जहां 2016 में नकारात्मक दरों को अपनाया गया था।
  • इस प्रकार यह अभी भी स्पष्ट नहीं है कि यह पॉलिसी अर्थव्यवस्था की विकास दर को बढ़ाने के लिए काम करती है या नहीं।